चित्तौडग़ढ़।  अखिल विश्व गायत्री परिवार की ओर से 7 जून को चित्तौडग़ढ़ में युवा संकल्प महोत्सव ‘शौर्य’ का आयोजन होगा। आयोजन में देश के विभिन्न राज्यों के 30 हजार युवा भाग लेंगे। इसमें गायत्री परिवार के प्रमुख व देवसंस्कृति विश्वविद्यालय हरिद्वार के कुलाधिपति डॉ. प्रणव पंड्या कार्यक्रम में मार्गदर्शन देंगे। आयोजन को लेकर विभिन्न जिलों में रथयात्रा के माध्यम से प्रचार किया जा रहा है। राजस्थान दिया (डिवाइन इंडिया यूथ एसोसिएशन) के प्रभारी डॉ. विवेक विजय ने बताया कि दिया व चित्तौडग़ढ़ नगर परिषद के संयुक्त तत्वावधान में 7 जून को महाराणा प्रताप जयंती के अवसर पर ‘शौर्य’ का आयोजन होगा। शहर के इंदिरा गांधी स्टेडियम में मुख्य समारोह होगा। युवा संकल्प महोत्सव में भाग लेने के लिए राजस्थान समेत देश के विभिन्न राज्यों के युवा पहुंचेंगे। दिया के जिला संयोजक कैलाश शर्मा, नवीन माली व शांतिलाल जाट ने बताया कि आयोजन तीन दिवसीय होगा।

गांव-गांव दे रहे न्योता

चित्तौडग़ढ़ में गायत्री परिवार की ओर से आयोजित होने वाले युवा संकल्प महोत्सव ‘शौर्य’ में अधिकाधिक भागीदारी बढ़ाने के लिए युवा क्रांति रथयात्रा निकाली जा रही है। इसके तहत गांवों में प्रचार-प्रसार करने के साथ ही महोत्सव का आमंत्रण भी दिया जा रहा है। रथयात्रा का आगाज गत सात मई को भूपालसागर उपखंड क्षेत्र के जाशमा से किया गया था। अब तक इस रथयात्रा के जरिये चित्तौडग़ढ़, उदयपुर, राजसमंद जिले के कई गांवों में लोगों से संपर्क कर आमंत्रण दिया जा चुका है। रथयात्रा का विभिन्न जगह स्वागत-अभिनंदन किया जा रहा है।

प्रताप हैं आदर्श, इसलिए चुनी जयंती

चित्तौडग़ढ़ में युवा संकल्प महोत्सव के आयोजन व उसमें डॉ. प्रणव पंड्या के मार्गदर्शन तय करने के लिए करीब डेढ़-दो साल से तैयारी चल रही थी। इस संबंध में स्थानीय गायत्री परिवार की ओर से डॉ. पंड्या से भी संपर्क किया गया। दिया संगठन के नवीन माली के अनुसार महाराणा प्रताप का व्यक्तित्व पूरे विश्व के साथ ही देश के युवाओं के लिए  भी आदर्श माना जाता है। इसलिए आयोजन के लिए प्रताप जयंती को चुना गया।

सभापति ने हरिद्वार जाकर दिया था निमंत्रण

युवा संकल्प महोत्सव के आयोजन को लेकर गायत्री परिवार चित्तौडग़ढ़ के सदस्य काफी समय से तैयारी कर रहे हैं। गायत्री परिवार से जुड़े नगर परिषद चित्तौडग़ढ़ के सभापति सुशील शर्मा करीब दो महीने पहले हरिद्वार जाकर अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रमुख डॉ. प्रणव पंड्या को निमंत्रण देने पहुंचे थे। डॉ. पंड्या ने निमंत्रण स्वीकार कर कार्यक्रम में आने की सहमति दे दी है।