लॉयन न्यूज नेटवर्क। कार्यवाहक सीएम अशोक गहलोत ने बीजेपी में मुख्यमंत्री चयन में हो रही देरी को लेकर निशाना साधा है। दिल्ली में मीडिया से बातचीत में गहलोत ने कहा- अगर कांग्रेस 5-6 दिन मुख्यमंत्री का फैसला नहीं करती तो पता नहीं क्या-क्या चिल्लाते कि आपस में फूट है, झगड़ा है। अब आप इनको पूछो क्या हैं? आपके पास क्या है? आज 6 दिन हो गए हैं, मुख्यमत्री का फैसला नहीं हुआ।

 

गहलोत ने कहा कि सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या हुई। एनआईए जांच के लिए केंद्र सरकार को मुझे लिखकर भेजना पड़ा। एनआईए जांच का लेटर मेरे साइन से गया है कि इस मर्डर की जांच एनआईए से होनी चाहिए, हमें ऑब्जेक्शन नहीं है। जबकि यह काम नए मुख्यमंत्री का था। राज्यपाल ने मुझे कार्यवाहक सीएम बना रखा है,जब तक नया सीएम शपथ नहीं ले, मुझे कार्रवाई करनी पड़ती है। मैं चाहता हूं जल्दी इसका फैसला हो।

 

गहलोत ने कहा कि अब इनकी पोल खुलती नजर आ रही है। सात-सात दिन तक आप लोग मुख्यमंत्री तय नहीं कर पाते हो और आप बात करते हो कि हमारी पार्टी में अनुशासन है। चाल, चरित्र, चेहरा तो पहले एक्सपोज हो चुका है।